शुक्रवार, 13 मार्च 2009

योग गुरू बाबा रामदेव ने कभी इस ओर भी ध्यान दिया है?

Posted on 12:43:00 pm by kamlesh madaan

योग के ढोंग करके और कोला कम्पनियों को पानी पी-पीकर कोसने वाले बाबा रामदेव ने उन कम्पनियों की नाक में नकेल डाल रखी है, और अब शायद वो अपना देसी कोला का भी व्यापार चालू करने वाले हैं यानी दुकानदारी चोखी ही होगी! लेकिन....

लेकिन बाबा रामदेव यह भी जानते हैं कि जब तक पब्लिसिटी में रहना है ऐसे ही मुद्दे उछालने पड़ेंगे सो अब बात ऑस्कर की हो यां पेप्सी कोला की रामदेव बाबा को तो पब्लिसिटी ही चाहिये!

लेकिन क्या बाबा रामदेव इस बात के लिये मुहिम छेड़ सकते हैं कि एक लीटर की साफ़ पानी की बोतल जो पहले से ही मनमाने रूप से 10 रू. में बिक रही थी अब काफ़ी महीनों से 12 रू. के अनाव्श्यक रूप में बिक रही है, रेल-मंत्री लालू प्रसाद के आव्हान के बाद 1 रू में पानी तो बिकने लगा लेकिन क्या रेलवे स्टेशनों पर ही लोग प्यासे घूमते हैं और क्या ये भी गारंटी है कि वो पानी हर आदमी की पहुँच में होता है?

कहानी का सीधा सार यह है कि बाबा रामदेव को कुछ भी माया-मोह और अपनी दुकानदारी के अलावा कुछ दिखायी देता है तो वो इस समस्या पर ध्यान दें

15 Response to "योग गुरू बाबा रामदेव ने कभी इस ओर भी ध्यान दिया है?"

.
gravatar
बेनामी Says....

भाई मेरे क्या बाबा रामदेव ने सारे काम करने का ठेका ले रखा है, कभी सोच कर देखा है की हम क्या करते हैं समाज के लिये जो दूसरो पर ऊँगली उठते हैं.

.
gravatar
कमलेश मदान Says....

बेनामी भाई जी,
आपने कहानी तो पढ ली लेकिन आप समझे नहीं, मैने कहा है कि आप कोला कम्पनियों के खिलाफ़ जाइये लेकिन अपने देश की नदियों का पनी हमें ही मुँहमांगे दामों पर बेचने पर इनको आपत्ति क्यों नहीं होती है?

क्या बाबा रामदेव आपको भी कमीशन भेज रहे हैं?

.
gravatar
बेनामी Says....

कमलेश मदान, तू महीनों से बक-बक कर रहा है अपने फालतू के ब्लाग में

खुद को बड़ा सयाना समझता है, लेकिन तुझसे बड़ा बेवकूफ मैंने कोई नहीं देखा ऐसी-ऐसी बेवकूफी भरी बातें तू करता है कि हंसी नहीं तुझ जैसे धरती के बोझ पर रोना आता है

तेरी छोटे से भेजे में इतनी समझ नहीं कि तु बाबा रामदेव या पेप्सी की बातें समझ पाये, इसलिये ज्यादा दिमाग मत लगा

बेवकूफ ऐसी बातें करके लोगों को हंसने का मौका क्यों देता है?

.
gravatar
कमलेश मदान Says....

समझ गया बेनामी भाई,

आप मीडिया से ताल्लुकबाजी रखते हो, आपकी भाषा शैली तो समझ आ गयी है और आप भी पहचान में आ रहे हैं लेकिन क्या करूं मेरी आदत ही ऐसी है कि मैं सच देख रहा हूँ लेकिन आप सच बेच रहे हैं.

आपको जरूर कमीशन मिली है ना!

.
gravatar
बराक ओबामा Says....

भैया बेनामी पहले तो रख लो अपना एक नाम
बे हटा दो नामी ही रखवा लो, फिर उसमें ग्रामी
जोड़ देंगे हम, फिर आप गांव वाले भी हो जाओगे
और शहर वाले भी मतलब नामीग्रामी।

फिर सुनाना अपनी कहानी
अपनी कहानी अपनी जुबानी।

जैसे हर एक के होते हैं कम से कम दो चेहरे
एक अपना वाला, एक दूसरा वाला
एक आफिस में, एक घर में
एक बाजार में, एक व्‍यापार में
एक सलाह में, दूसरा अल्‍लाह में।

बाबा राम भी हैं देव भी हैं
योग भी हैं तो माइनस भी होंगे।

उलझें मत आपस में
सार सार गहि रहें
थोथा देंय उड़ाय।

.
gravatar
sareetha Says....

पेप्सी ,कोला जैसी कंपनियाँ जब लूटती हैं ,तो हम उन्हें बहुराष्ट्रीय कहकर खूब हँगामा करते हैं । लेकिन रामदेव जैसे ढोंगियों का क्या करें जो मीडिया के साथ मिलकर देशभक्ति और भारतीय परंपराओं की दुहाई के नाम पर ही अपनों को लूट रहे हैं ।

.
gravatar
Dr. Munish Raizada Says....

कमलेश जी:
आप का ब्लॉग देखा. अच्छा लगा. कहीं आपकी ईमेल का सूत्र न होने की वजह से यह कमेन्ट भेज रहा हूँ.
कृपया www.mifindia.org देखे तथा मुझे अपना ईमेल मेरी इस ईमेल pedia333@gmail.com पर भेजें ताकि आप से संपर्क बने. मैं आपको MIF के ब्लॉग पर लिखने का नोमंत्रण देता हूँ.
डॉ मुनीश
शिकागो

.
gravatar
अनिल कान्त : Says....

कोई भारतीयता के नाम पर लूटता है कोई सभ्यता के नाम पर तो कोई अपना प्रचार इन फिल्मवालों से या क्रिकेट वालों से करा करा कर

.
gravatar
smart Says....

dekho kamlesh babu chahe ram dev ho ya aasha ram aur morari bapu inhone sirf bechana sikha hai koi yog bech raha hai to koi bhagwan ko bech raha hai ab logo ko samjhao to bhi mamala ulta hota hai aagar koi moorkh aapani maa.....to hum kya kar sakate hai.

.
gravatar
Chasta Says....

ब्‍लॉग की पब्लिसिटी करने का तरीका अच्‍छा है. वैसे भगवान राम पर लोगों ने कीचड उछाला था. जो सत्‍य है वह तो सामने आऐगा ही आप क्‍यों ब्‍लॉग पर यह गन्‍दगी फैलाते है. जितना रामदेव जी कर रहे है उसका 1 प्रतिशत भी करके तो दिखाए. सिर्फ टिप्‍पणी करने से कुछ नहीं होता है.

.
gravatar
बेनामी Says....

chunki baba Ramdev ne Itna Sab Kuchh Desh k liye Kiya, Hamari Ummiden badhi hai per Iska Matlab yah to nahi hai na ki Sare Samsyaon ka Samadhan o Chhadi ghumakar kar den, han sayad bhawishya mein unki is or jarur kuch kalpana rahi hogi.

.
gravatar
बेनामी Says....

No deposit free bankroll - POKER bonus
all possible free bankrolls free Full Tilt poker $50 no deposit Good luck at the tables.

.
gravatar
RAMA SHANKER Says....

BABA RAM DEV JI RASTRA KE PRHARI HAI.WAY DESH KI DHARKAN HAI

.
gravatar
RAMA SHANKER Says....

BABA RAM DEV JI RASTRA KE PRHARI HAI.WAY DESH KI DHARKAN HAI