शनिवार, 19 अप्रैल 2008

युवा- एक नया प्रयास

Posted on 8:11:00 pm by kamlesh madaan

कभी-कभी अनजाने में ही आपको अपनी मंजिल और ध्येय का मार्ग मिल जाता है, बस ! जरूरत होती है उस मार्ग को पहचानना और उस मंजिल को प्राप्त करना.

लेकिन कभी-कभी उसके विपरीत कोई खुद आकर आपको आपका रास्ता दे और जो विपरीत दिशा में चलता हो...तो आपके लिये ये सौभाग्य की ही बात होगी ना!


जी हाँ मैं बात कर रहा हूँ अपने पंगेबाज दादा उर्फ़ बाबा फ़रीदी उर्फ़ अरून जी की

करीब दो दिन पहले उनसे फ़ोन पर बातचीत हो रही थी बातचीत का विषय अलग था लेकिन उन्होने एक बात अंत में मुझे कही कि "कमलेश आप तो आई.टी. के जानकार हैं और हमारे जैसे लोगों के लिये ये सब बेकार है तो क्यों नहीं आप अपने कार्यक्षेत्र के बारे में लिखते हैं?

और आप यदि आगे आयेंगे तो कितने लोगों का भला होगा ये भी हो सकता है कि आपके साथ और बहुत से लोग भी जुड़ जायें जो इस दिशा में कार्य करने की इच्छा रखते हों लेकिन उन्होने अब तक कुछ किया न हो.

अगर हिन्दी में अंग्रेजी क्म्प्यूटर की तकनीक को सिखाने की हिम्मत करोगे तो शायद हम जैसे लोगों का ही भला हो जाये"

ये बातें जब अरून जी ने मुझसे कहीं तो मुझे अपने ऊपर शर्म भी आ रही थी और मुझे एक नयी मंजिल भी दिखायी दे रही थी, मुझे लग रहा है कि मेरा असली ध्येय तो यही है तो क्यों न मैं इसे कार्यान्वित करके पूरी दुनिया और खासकर अपने भारत के बेरोजगार और कम्प्यूटर अक्षम लोगों की थोड़ी सी मदद कर सकूं.

तो आज से ही इसे मैने मूर्त रूप देने की कोशिश भर की है सुझाव और सदस्यतायें आमंत्रित हैं,

यदि आप अपने कार्यक्षेत्र जैसे सॉफ़्टवेयर डेवलपमेंट,हार्डवेयर,नेटवर्किंग और किसी प्रोफ़ेशन जैसे पब्लिशिंग,एकाउंटिंग जैसे क्षेत्रों में भी सिध्दहस्त हैं तो इस ब्लॉग के सदस्य जरूर बनिये

वैसे इसब्लॉग का नाम है युवा
और इसका यू आर एल है: http://i-yuva.blogspot.com

मेरा सभी शीर्ष ब्लॉग एग्रीग्रेटरों से अनुरोध है कि वो मेरे इस प्रयास को अपनी वेबसाइट में जगह देंगें

नारद,ब्लॉगवाणी,चिट्ठाजगत और हिन्दीब्लॉग्स.कॉम से खास अनुरोध

एक बात औरः केवल हिन्दी में लिखने वालों को वरीयता दी जायेगी क्योंकि हम तकनीक को हिन्दी में बांटना चाहते है, अंग्रेजी के लिये पूरा इंटरनेट पड़ा है.

3 Response to "युवा- एक नया प्रयास"

.
gravatar
Udan Tashtari Says....

बहुत सार्थक और सराहनीय कदम है. आप और बाबा फरीदी दोनों को ही साधुवाद. हम भी जरुर लिखेंगे. शुभकामनायें.

.
gravatar
Gyandutt Pandey Says....

आपका प्रयास सार्थक-सराहनीय है। सफलता की कामना है।

.
gravatar
बेनामी Says....

aap ki mail bhi milli is sandharbh mae , aap kaa jo aadesh ho , mae apni samarthy aur samjh sae is blog per aap ko sahyog dugeen
aap kaa prayaas safal ho isii kamana kae saath
rachna